T-20 वर्ल्ड कप का टलना लगभग तय, BCCI उस वक्त करवा सकता है IPL

IPL T20 World cup
देशभर में लॉकडाउन बढ़ने की आशंका के चलते 15 अप्रैल से इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का आगाज मुमकिन नहीं है. वहीं ट्वेंटी-ट्वेंटी वर्ल्ड कप (T-20 World Cup) के टलने के भी आसार दिख रहे है.

आईपीएल (IPL) की गवर्निंग काउंसिल भी 13वें सीजन का अनिश्चित समय के लिए टालने के लिए तैयार है. हालांकि गवर्निंग काउंसिल को उम्मीद है कि जल्द ही वह आईपीएल का आयोजन पहले की तरह ही कर पाएंगे.

इस समय ज्यादातर दुनिया के अधिकतर देशों में लॉकडाउन लगा हुआ है और कहीं भी किसी क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन नहीं हो रहा है. ऐसी स्थिति में इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल जून में इस साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले ट्वेंटी-ट्वेंटी वर्ल्ड कप (T-20 World Cup) को टालने पर फैसला ले सकती है.

हालांकि यह फैसला लेने से पहले आईसीसी ऑस्ट्रेलिया पर पड़ने वाले वित्तिय असर और टैक्स में मिलने वाली राहत को ध्यान में रखेगी. इसके अलावा वर्ल्ड कप के स्पॉन्सर्स को भी अपने पैसे की चिंता सता रही है.

वहीं बीसीसीसीआई की नज़रें वर्ल्ड कप के स्लॉट पर हैं. बीसीसीआई अभ्यास मैचों के समय के साथ आईपीएल के लिए चार हफ्ते का वक्त ले सकता है और ज्यादा डबल हेडर मैचों के साथ सीजन को पूरा करवाया जा सकता है.

मौजूदा स्थिति वर्ल्ड कप पहले से तय समय के मुताबिक नहीं होगा. इसके साथ ही बीसीसीआई की कोशिश दो देशों की सीरीज के टाइम को बदलकर वो समय आईपीएल के लिए लेने की है.

2020-21 के सीजन की जल्दी शुरुआत

इन सबके अलावा बीसीसीआई की कोशिश घरेलू सीजन को भी जल्दी शुरू करने की है. बीसीसीआई घरेलू सीजन के लिए उन जगहों को चुन सकती है जो मानसून के समय में बारिश से ज्यादा प्रभावित नहीं होते. सितंबर अंत से शुरू होने वाले सीजन को बीसीसीआई जून-जुलाई में आयोजित कर सकता है ताकि सितंबर-अक्टूबर का वक्त आईपीएल के लिए मिल जाए.

हालांकि मुश्किल हालात का मद्देनज़र रखते हुए बीसीसीआई घरेलू कैलेंडर में से जोनल टूर्नामेंट और कुछ जूनियर लेवल के टूर्नामेंट की कटौती भी कर सकता है.

Also Read: Corona के खिलाफ जंग में विदेशी खिलाड़ियों से पीछे हैं भारतीय, जानिए किसकी क्या कमाई और कितना योगदान !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *