1. गुरु पूर्णिमा के दिन आप भगवान विष्णु को नमन करें। इसके बाद उनकी पूजा-अर्चना कर अच्छे जीवन की कामना करें।

2. जो छात्र पढ़ाई में पीछे रह जा रहे है वे गीता का पाठ कर सकते है। वहीं वे श्रीकृष्ण की पूजा भी कर सकते है।

3. जिस व्यक्ति की कुंडली में गुरु का दोष है, उसे गुरु का ध्यान करके जीवन में आ रही बाधाओं से मुक्ति की प्रार्थना करना चाहिए।

4. वहीं जिनका कारोबार मंदा चल रहा है वे लोग जरूरतमंद लोगों को पीले अनाज, वस्त्र आदि दान कर सकते है।