ज्योतिरादित्य सिंधिया को मिली जान से मारने की धमकी, जानिए कौन है वो

भोपाल| चुनाव से पहले प्रदेश में नेताओं के बीच सियासी जंग तेज हो गई है, एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है, इस बीच बीजेपी विधायक पुत्र ने कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को जान से मारने की धमकी दे डाली है| विधायक पुत्र ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर सिंधिया को धमकाया है, यह पोस्ट वायरल हो रहा है| विधायक पुत्र की दबंगई के किस्से पहले से ही चर्चा में है और उनका नाम कई विवादों से जुड़ चुका है|

दरअसल, कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के चुनाव अभियान प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया 5 सितंबर को दमोह जिले के हटा में परिवर्तन रैली को संबोधित करने आने वाले हैं। इस सभा से पहले हटा विधानसभा क्षेत्र की भाजपा से विधायक उमादेवी खटीक के बेटे प्रिंसदीप ने अपने फेसबुक वॉल पर सिंधिया को गोली मारने की धमकी दी है| प्रिंसदीप लालचंद खटीक के नाम के फेसबुक अकाउंट पर सिंधिया को लेकर विवादित पोस्ट किया गया है, जिसमे लिखा है “सुन ज्योतिरादित्य तेरी रगों में जीवाजी राव का फोन है जिसमें बुंदेलखंड की बेटी झांसी की रानी का खून किया था अगर वह काशी हटा में प्रवेश कर इस धरती को अपवित्र करने की कोशिश की तो गोली मार दूंगा लोहारी में ही या तो मेरी मौत होगी याद तेरी”| इस विवादित पोस्ट पर राजनीति गर्माने के बाद विधायक पुत्र ने अपने फेसबुक से यह धमकी हटा ली। लेकिन, जब तक काफी जगहों पर यह पोस्ट शेयर हो चुकी थी। कांग्रेस समर्थक कार्यकर्ता इसे काफी वायरल कर रहे हैं।

विधायक पुत्र की इस पोस्ट के बाद सियासत गरमा गई है, मध्यप्रदेश में सिंधिया को यह धमकी दूसरी बार मिली है। इससे पहले किरार समाज के कार्यक्रम के मंच से सिंधिया को धमकी दी गई थी, इस सभा में मुख्यमंत्री के बेटे कार्तिकेय भी मौजूद थे। शिवपुरी जिले की कोलारस विधानसभा में आयोजित किरार धाकड़ समाज के सम्मेलन में किरार सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष राधेश्याम धाकड़ ने सिंधिया को धमकी देते हुए कहा था कि यदि शिवराज सिंह पर उंगली उठाई तो हाथ तोड़ देंगे और जुबान चलाई तो जुबान काट लेंगे। उन्होंने कहा था कि हम धाकड़ हैं, धाकड़ ही रहेंगे और ठिकाने लगा देंगे। धाकड़ की इस बयानबाजी के बाद जमकर बवाल मचा था| अब एक फिर सिंधिया को धमकी दी गई है, जिससे फिर सियासत गरमा गई है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *