बढ़ते कोरोना केसेस पर शिवराज सरकार के मंत्री ने कहा,”उम्र के बाद लोगों को मरना ही हैं”

देशभर में कोरोना की स्थितियां खराब होती जा रही है. सरकारें खाना पूर्ति के लिए सिर्फ लॉकडाउन लगा दे रही है, जिससे की लोग घर से ना निकले और इस बीमारी का प्रसार कम हो. लेकिन इलाज के नाम पर सरकारे खाली हाथ है.

ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड की कमी हर प्रदेश में हो रही है. सभी जगह सप्ताह में दो दिनों का लॉकडाउन लगाया भी जा रहा हैं लेकिन हालात कंट्रोल से बाहर है. इस बीच मध्यप्रदेश के शिवराज सरकार के मंत्री ने अजीब बयान दिया है.

मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कोरोना की बढ़ती संख्या पर बात करते हुए कहा, “मौत लगातार हो रही है. इसे कोई रोक नहीं सकता. देश में संक्रमण को रोकने के लिए सभी लोग सहयोग करें, हम सभी अपने – अपने इलाकों में जाकर अपील कर रहे हैं कि मास्क जरूर पहनें, कोरोना से बचें इससे बचने के लिए उचित दूरी का पालन करें.”

अपने इस बयान में उन्होंने यह भी कह दिया कि एक उम्र के बाद सभी को मरना ही पड़ता है. मंत्री जी ने कहा, अगर किसी को संदेह है और लगे कि वह बीमार है तो उसे जरूर डॉक्टर से मिलना चाहिए.

बता दें कि कई मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि मध्य प्रदेश में कोरोना से मौतों का आंकड़ा काफी अधिक है, लेकिन प्रदेश सरकार इसे कम करके बता रही है.

कई जिलों में श्मशान घाटों पर कोरोना से मरने वालों के अंतिम संस्कार की कतारों का हवाला देते हुए ऐसे दावे किए गए हैं.

हालांकि प्रदेश सरकार का कहना है कि हमारी ओर से पूरा आंकड़ा दिया जा रहा है.सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खुद कहा था कि सरकार पूरी अपडेट दे रही है और संदिग्धों का भी कोरोना प्रोटोकॉल के तहत ही अंतिम संस्कार किया जा रहा है.

Also read: बचत पर ब्याज कम करने का फैसला गलती से जारी हुआ – वित्तमंत्री

Also Read: महाराष्ट्र में लॉकडाउन तो नहीं लेकिन कड़े होगें नियम – उद्धव ठाकरे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *