कोरोना का दूसरा लहर है खतरनाक, एम्स डायरेक्टर ने किया अगाह

एम्स डायरेक्टर

देश में कोरोना के दूसरे लहर से मरीजों की संख्या अचानक से बढ़ गई है. महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात समेत कई प्रदेश लॉकडाउन लगाने पर फिर से विचार कर रहे है. इस बीच एम्स डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने अगाह करते हुए कहा हैं कि कोरोना का यह दूसरा लहर खतरनाक है.

गुलेरिया ने कहा, पहले एक कोरोना मरीज अपने संपर्क में आने वाले 30 से 40 प्रतिशत लोगों को संक्रमित कर पाता था. वहीं अब यह आंकड़ा 80 से 90 प्रतिशत तक पहुंच गया है.

यानी, पहले किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के बावजूद 100 में से 60-70 व्यक्ति संक्रमित नहीं होते थे, लेकिन अब तो मुश्किल से 10-20 लोग ही बच पाते हैं. कई-कई घरों में तो पूरे का पूरा परिवार ही संक्रमित हो गया है. 

केस बढ़ने पर गुलेरिया कहते है, दिल्ली में कोरोना के तेजी से फैलने के पीछे सबसे बड़ी वजह मास्क नहीं पहनना, दो गज दूरी का पालन नहीं करना, वक्त-वक्त पर हाथ नहीं धोना जैसी लापरवाही हैं.

उन्होंने कहा कि कोरोना की पहली लहर में लोग बचाव के उपाय अपना रहे थे लेकिन अब लोग ज्यादा लापरवाह हो गए हैं. वे संक्रमण से बचने को लेकर बहुत सतर्क नहीं हैं. 

देस में कोरोना के बढ़ते मामलों पर उन्होने कहा, हालात तेजी से खराब हो रहे हैं. ऐसे में सरकारों को अस्पतालों में कोविड स्पेशल बेड बढ़ाने होंगे और कुछ होटलों को अस्पतालों से जोड़ना होगा.

जिससे सामान्य लक्षण वाले कोरोना मरीजों को वहां आइसोलेट किया जा सके. उन्होंने कहा कि इस बार देश के पास वक्त कम है, इसलिए हमें बहुत तेजी से कदम उठाने होंगे. जिससे हालात और खराब होने से रोके जा सकें.

Also Read: भारतीय सेना से घटाएं जाएंगे 1 लाख जवान – CDS बिपिन रावत

Also Read: हिरासत में रखे गए रोहिंग्या मुसलमानों की नहीं होगी रिहाई – Supreme Court

Source: Zee News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *