औरेया घटना के बाद मुख्यमंत्री का निर्देश, पैदल और अवैध वाहनों से नहीं आएंगे मजदूर

CM Yogi adityanath on auraiya road accident
उत्तर प्रदेश के औरेया में दर्दनाक घटना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलों के डीएम और एसपी को निर्देश दिया हैं कि पैदल और अवैध वाहनों में मजदूर नहीं आए.

पलायन कर रहे मजदूरों के साथ औरेया में हुई घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद जताते हुए मृतकों के परिजनों को 2 लाख और घायलों को 50000 हजार की आर्थिक मदद की घोषणा की है.

सीएम योगी ने आधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि, राज्य के सीमा क्षेत्रों में कोई भी प्रवासी कामगार/श्रमिक पैदल, बाइक या ट्रक आदि अवैध और असुरक्षित वाहन से न आने पाए. यदि ऐसा पाया जाए तो लोगों को ला रही अवैध गाड़ियों को तत्काल जब्त करते हुए कानूनी कार्रवाई की जाए.

मुख्यमंत्री ने साथ ही कहा कि प्रवासी श्रमिकों को सभी सुविधाएं उपलब्ध कराना जिला प्रशासन की जिम्मेदारी होगी और इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सीएम ने कहा है कि श्रमिकों को सम्मान के साथ प्रदेश में लाया आए.

प्रदेश सरकार द्वारा निशुल्क व्यवस्था की गई है. ऐसे में किसी को कोई कठिनाई नहीं होनी चाहिए. इस संबंध में सभी पुलिस अधिकारियों को यह निर्देश दिए गए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा है कि राज्य सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है कि घर वापस आने वाले किसी भी प्रवासी कामगार व श्रमिक को कोई दिक्कत न हो. इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही अथवा उदासीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

बता दें कि औरेया में एक हादसे में सवार २४ मजदूरों की मौत हो गई. यह सभी मजदूर हरियाणा और राजस्थान से अपने घरों को पलायन कर रहे थे. इस भीषण घटना पर पीएम ने दुख जताते हुए कहा कि “उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क दुर्घटना बेहद ही दुखद है. सरकार राहत कार्य में तत्परता से जुटी है. इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं, साथ ही घायलों के जल्द से जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.”

Source: Jagran & Navbharat

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *