हंदवाड़ा में 48 घंटों के भीतर दूसरा आतंकी हमला, 3 CRPF जवान शहीद

handwara crpf convoy attack
जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा जिले में सोमवार को एक बार फिर आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर हमले की वारदात को अंजाम दिया है. आतंकियों ने हंदवाड़ा के काजियाबाद इलाके में सीआरपीएफ की एक पट्रोलिंग टीम पर फायरिंग की है. इस हमले में सीआरपीएफ के 3 CRPF जवान शहीद हुए हैं. इस हमले में शामिल एक आतंकी को मार गिराया गया है.

मिली जानकारी के मुताबिक, आतंकियों के एक दल ने सोमवार शाम काजियाबाद में पट्रोलिंग ड्यूटी पर जा रहे सीआरपीएफ के एक काफिले पर फायरिंग की थी. इस गोलीबारी के बाद हुई मुठभेड़ में सीआरपीएफ जवानों ने एक हमलावर को मार गिराया. वहीं इलाके में जवाबी कार्रवाई के दौरान घायल सीआरपीएफ के तीन जवान शहीद हो गए.

कुपवाड़ा में हाई अलर्ट, बड़े तलाशी अभियान शुरू
घटना की जानकारी के बाद करालगुंड, काजियाबाद और नौगाम के इलाकों में सेना ने एक बड़ा तलाशी अभियान शुरू किया है. इस ऑपरेशन में सेना की राष्ट्रीय राइफल्स और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान भी शामिल हो रहे हैं. दो बड़ी आतंकी घटनाओं के बाद सेना की स्पेशल फोर्सेज और राष्ट्रीय राइफल्स की कई टीमों ने कुपवाड़ा में बड़े स्तर पर आतंकियों की तलाश शुरू की है.

हंदवाड़ा में शहीद हुए थे पांच जवान
काजियाबाद की इस घटना से पहले सोमवार को ही चांजमुल्ला गांव में बंधक बनाए हुए कश्मीरियों को छुड़ाने गई सेना और पुलिस की टीम पर हमला हुआ था. इस घटना के बाद हुई मुठभेड़ में सेना के कर्नल आशुतोष शर्मा और मेजर अनुज सूद समेत कुल चार जवान और एक पुलिसकर्मी शहीद हुए थे.

नियंत्रण रेखा से सटा उत्तरी कश्मीर का जिला है कुपवाड़ा
उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के इस इलाके से कुछ किलोमीटर की दूरी पर भारत-पाकिस्तान की नियंत्रण रेखा और पाक अधिकृत कश्मीर के इलाके हैं. पूर्व में कुपवाड़ा के केरन और नौगाम सेक्टर से घुसपैठ करने वाले तमाम आतंकियों को हंदवाड़ा के आसपास के इलाकों में ढेर किया जाता रहा है. इसके अलावा क्रॉस बॉर्डर टेररिज्म की गतिविधियों के कारण कुपवाड़ा का ये हिस्सा घाटी के बेहद संवेदनशील इलाकों में गिना जाता है.

Lockdown 3 में किस पर है छूट और किस पर पाबंदी, पढ़े पूरी खबर!

Source: Navbharat

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *