रेलवे ने कहा स्पेशल ट्रेनों में RAC टिकट भी हो जाएगा कन्फर्म

Indian railway RAC Ticket will be confirmed

गृह और रेल मंत्रालय द्वारा शानिवार को आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने कहा जो भी ट्रेने इस समय चलाई जा रही है उनमें इनरुट टिकट नहीं दिया जा रहा हैं. इसलिए पूरी उम्मीद हैं की RAC वाले टिकट कंन्फर्म हो जाएंगे.

प्रेस कांफ्रेंस में गृह सचिव ने बताया कि अभी तक कुल 2600 से अधिक स्पेशल ट्रेने चलाई जा चुकी है, जिसमें 34 लाख से श्रमिक मजदूरों को उनके घर पहुंचाया गया है. इस समय 200 से ज्यादा स्पेशल ट्रेने चलाई जा रही है. वहीं जून महीने से यह संख्या और बढ़ जाएगी. इन ट्रेनों में 14 लाख से ज्यादा लोगों ने टिकट बुक कराया है.

Indian railway RAC Ticket will be confirmed

उत्तर प्रदेश और बिहार के मजदूरों की बात करते हुए रेलवे बोर्ड के अध्‍यक्ष विनोद कुमार यादव कहते है जितनी ट्रेने चलाई गई, उसमें 85 फीसदी से ज्यादा दोनो प्रदेशों के ही लोग है. रेलवे बोर्ड ने कहा यात्रा करते समय सोशल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता का पूरा ख्याल रखा जा रहा है.

क्यों तैयार की जा रही है वेटिंग लिस्ट ?

आम जनता के लिए शुरू हुई टिकटों की बिक्री करते समय रेलवे की वेबसाइट पर वेटिंग लिस्ट होने से कई लोगों के मन में सवाल था कि अगर ऐसे ही ट्रेनों में टिकट बिक्री होने लगेगी तो ट्रेन के कोच में भीड़ लग जाएगी. इस पर रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा कि वेटिंग लिस्ट इसलिए दिया क्योंकि पहले ट्रेनों में देखा गया कि कुछ लोग ट्रेन खुलने के वक्त टिकट कैंसल कर रहे थे. अब वेटिंग लिस्ट की व्यवस्था होने के कारण कैंसल टिकटों से खाली बर्थ को बाकी लोगों से भरा जाएगा.

नहीं बढ़ाए गए टिकटों के दाम

विनोद कुमार यादव ने कहा कि लॉकडाउन से पहले जो टिकट का मूल्‍य था, आज भी वही है. किसी टिकट पर एक भी पैसा ज्यादा नहीं लिया जा रहा है. लॉकडाउन से पहले कुछ छूटों पर रोक लगा दी गई थी, वही व्यवस्था आज भी लागू है.

कोविड केयर कोचों में बदले गए कोचों का भी हो रहा हैं उपयोग

विनोद कुमार यादव ने कहा कि हमने 5,000 रेल कोच को 80,000 बिस्तरों वाले COVID केयर सेंटर के रूप में बदल दिया था. चूंकि इनमें से कुछ का अभी उपयोग नहीं किया जा रहा था इसलिए हमने इनमें से 50 फीसद कोचों को श्रमिक विशेष ट्रेनों के लिए इस्तेमाल किया. जरूरत पड़ने पर उन्हें फिर से कोरेाना वायरस के मरीजों के देखभाल के लिए उपयोग किया जाएगा.

Also Read : मजदूरों पर छिड़ी राजनीति में विपक्ष की भूमिका

Source: Jagran.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *