Lockdown Guidelines: जानिए किन चीजों पर रहेगी पांबदी और किनको मिलेगी छूट

Lockdown Guidelines
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देशभर में 3 मई तक लॉकडाउन बढ़ाए जाने के बाद लोगों में कौतूहल हैं कि आखिर जब तक जरुरी चीजें मिलेगी और कौन सी नहीं. गृह मंत्रालय ने इस संबंध में Lockdown Guidelines जारी किया है. मंत्रालय ने केंद्र शासित प्रदेशों व राज्‍यों को लिखित तौर पर इन दिशा-निर्देशों के तहत सख्‍ती से पालन करने का आदेश दिया है

जारी किए गए दिशा-निर्देश में 20 मई,2020 की तारीख को सुधारते हुए 20 अप्रैल,2020 कर दिया है. यह दिशा-निर्देश सभी मंत्रालयों/ विभागों, भारत सरकार, राज्य/केंद्र शासित प्रदेश सरकारों के लिए जारी हुए हैं.

गृह मंत्रालय ने 20 अप्रैल के बाद जिन इंडस्‍ट्री को काम करने की अनुमति दी है उनसे कहा है कि अपने यहां काम करने वाले कर्मचारियों के लिए शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए कार्यालय के भीतर या फिर करीब ही किसी बिल्‍डिंग में उनके रहने व खाने का उचित इंतजाम वहीं कराएं.

इन पर पाबंदी जारी

पब्लिक ट्रांसपोर्ट और पब्लिक प्लेस पहले की तरह रहेंगे बंद
लॉकडाउन 2.0 (Lockdown Guidelines) के मुताबिक सभी तरह के सार्वजनिक यातायात और सार्वजनिक स्थानों को खोलने पर तीन मई तक रोक है। यानी इस दौरान बस, मेट्रो, ट्रेन, फ्लाइट, ऑटो, कैब, टैक्सी आदि के चलने पर पर प्रतिबंध जारी रहेगा।

सार्वजनिक जगह पर थूकना पड़ेगा महंगा
गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार, सार्वजनिक स्थानों पर थूकना एक दंडनीय अपराध बन गया है और शराब, गुटखा, तंबाकू आदि की बिक्री पर सख्त प्रतिबंध लागू है।

शिक्षण संस्थान, मॉल्स, सिनेमा हॉल्स बंद रहेंगे
दौरान शैक्षणिक संस्थान, कोचिंग केंद्र, घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय हवाई यातायात, ट्रेन सेवाएं भी स्थगित रहेंगी। सिनेमाघर, मॉल्स, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, जिमखाने, खेल परिसर, स्विमिंग पूल, बार जैसे सार्वजनिक स्थान भी तीन मई तक बंद रहेंगे।

इन्हें मिलेगी छूट

ग्रामीण क्षेत्रों में उद्योगों को छूट
दिशा निर्देश के मुताबिक, ग्रामीण क्षेत्रों में व्यवसायिक गतिविधियों को सीमित दायरे में इजाजत दी गई है। दिशा निर्देश के मुताबिक ग्रामीण क्षेत्र में इंडस्ट्री को मुक्त रखा गया है, लेकिन शर्त यह है कि वह शहरी एमसीडी के क्षेत्र में नहीं आता हो। जिन क्षेत्रों को रियायत दी गई है उसमें स्पेशल इकॉनमिक जोन भी शामिल हैं, लेकिन इन क्षेत्रों में सामाजिक दूरी बनाए रखना होगा।

आईटी हार्डवेयर, सड़क निर्माणा, कोयला उद्योग को भी छूट
खाद्य प्रसंस्करण, आईटी हार्डवेयर, कोयला उद्योग, खान उद्योग, तेल रिफाइनरी इंडस्ट्री, पैकेजिंग इंडस्ट्री और जूट उद्योग को राहत दी गई है। ये उद्योग 20 अप्रैल से काम कर सकेंगे। इसके साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों में ईंट भट्ठे चलाने को भी इजाजत दी गई है। सड़क निर्माण, सिंचाई प्रोजेक्ट और बिल्डिंग निर्माण कार्य को भी प्रतिबंध के दायरे से मुक्त कर दिया गया है।

Source Courtsey: Navbharat Times and Jagran

Also Read: PM Modi ने कोरोना वायरस को लेकर देश को चौथी बार किया संबोधित, 3 मई तक बढ़ाया Lockdown

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *