Science Ministry ने कहा 2021 से पहले नहीं आएगी कोरोना वैक्सीन

corona vaccine

Science Ministry ने कहा आईसीएमआर (ICMR) के उस दावे को नकार दिया जिसमें 15 अगस्त तक कोरोना वैक्सीन बना लेने का दवा किया गया था. मंत्रालय ने कहा कोरोना वैक्सीन के 2021 से पहले आने की संभावना नहीं है.

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय (Science Ministry) ने रविवार को कहा कि दुनिया में तैयार हो रहे 140 वैक्सीन में से 11 ह्यूमन ट्रायल फेज में पहुंच चुके हैं, लेकिन यह संभावना नहीं है कि इनमें से कोई भी अगले साल से पहले बड़े पैमाने पर उपयोग के लिए तैयार हो जाएगा.

ह्यूमन ट्रायल फेज तक पहुंचे 11 वैक्सीन में से दो भारतीय हैं. पहला आईसीएमआर के सहयोग से भारत बायोटेक ने तैयार किया है तो दूसरा जायडस कैडिला ने विकसित किया है. इन्हें मानव परीक्षण के लिए मंजूरी मिल गई है.

मंत्रालय ने कहा, ”छह भारतीय कंपनियां वैक्सीन पर काम कर रही हैं. दो भारतीय वैक्सीन COVAXIN और ZyCov-D सहित 11 वैक्सीन मानव परीक्षण फेज में हैं. इनमें से कोई भी 2021 से पहले बड़े पैमाने पर उपलब्ध होने की संभावना नहीं है.”

बता दें कि आईसीएमआर अध्यक्ष ने एक पत्र लिखकर वैक्सीन की प्रोसेस को तेज करने के लिए निर्देश दिए थे. जिसके बाद विशेषज्ञों ने कहा था कि सरकार वैक्सीन बनाने में जल्दबाजी कर रही है.

आईसीएमआर ने अपनी सफाई देते हुए कहा है कि उसने पूरी प्रक्रिया को लालफीताशाही से बचाने के लिए ऐसा लिखा था.

आईसीएमआर ने अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि उसके लिए देश की जनता की सुरक्षा और हित सवोर्परि है. प्री क्लीनिकल स्टडी के डेटा की बारीकी से जांच करने के बाद ही भारतीय औषधिक महानियंत्रक ने चरण एक और चरण दो के क्लीनिकल ट्रायल को मंजूरी दी है.

Also Read: Kanpur Encounter: 48 घंटे में करेंगे सफाया- DGP

Source: live hindustan

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *